कोरोना वायरस,  जनरल,  समाचार,  स्वास्थ्य

क्या भारत में लॉकडाउन आगे बढ़ेगा? जानिये एक्सपर्ट्स का क्या मानना है

क्या भारत में लॉक डाउन आगे बढ़ेगा, kya bharat me lock down badhega

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि लॉकडाउन 14 अप्रैल को समाप्त होने वाला है, लेकिन भारत में कोरोना वायरस के मामलों की वर्तमान स्थिति को देखते हुए कहना मुश्किल है की लॉकडाउन निश्चित तारीख पर समाप्त होगा।

एम्स के निदेशक, डॉक्टर रणदीप गलोरिया के अनुसार, कोरोना वायरस भारत के कुछ जगहों पर अपने तीसरे चरण में पहुंच चूका है जिनमे कुछ गांव भी शामिल हैं।


∝ केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक: 3 मुख्य बातें

सोमवार दोपहर को आयोजित केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक से काफी बाते सामने आयी जो इस बात का संकेत देती हैं की लॉकडाउन की तिथि को आगे बढ़ाया जा सकता है।

  1. सोमवार की सुबह, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने स्थापना दिवस पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए संकेत दिया कि कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई लंबे समय तक चलने वाली है।
  2. केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के दौरान, कोरोना वायरस के प्रकोप के खिलाफ भारत की लड़ाई में मदद करने के लिए राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मंत्री और सांसदों के वेतन में 30 प्रतिशत की कटौती करने का निर्णय लिया गया है।
  3. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लिया गया अन्य प्रमुख निर्णय वर्ष 2020-21 और 2021-22 के लिए सांसद निधि को जारी किए जाने वाले 7,900 करोड़ रुपये के फंड का उपयोग करना है।

दोपहर में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान संयुक्त सचिव द्वारा लॉकडाउन बढ़ाने का संकेत

उसी दिन बाद में, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल, संयुक्त प्रतिभूति पुण्य सलिला और गृह मंत्रालय द्वारा संयुक्त संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया गया था जिसमें यह संकेत दिया गया कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए अभी लंबा रास्ता तय करना है।

यह भी कहा गया है कि तब्लीगी जमात की घटना के बाद भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या में काफी वृद्धि हुई है, जिसके बाद एक ही समूह से संबंधित 25,500 से अधिक लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया है जो कोरोना वायरस से संक्रमित हो सकते हैं।


डॉक्टरों का क्या मानना है

डॉक्टर अश्विन चौबे और नॉर्थ डेल्ही मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर डॉक्टर राम के साथ बातचीत से पता चलता है कि चिकित्सा उपकरणों, पीपीइ किट, सुरक्षा मास्क और परीक्षण किट की कमी के कारण कोरोना वायरस डॉक्टरों के हाथों से बाहर निकल रहा है। जिसके कारण कुछ पैरा मेडिकल स्टाफ के साथ कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज करने वाले 50 से अधिक डॉक्टर वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

कुछ लोग ऐसे हैं जो सरकार के साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं और लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं जिसके कारण भारत कोरोना वायरस के चरण 3 में प्रवेश कर रहा है।


लॉकडाउन अधिक समय तक क्यों चल सकता है

उत्तर प्रदेश सरकार के एक मंत्रालय के प्रमुख धर्मनिरपेक्ष के अनुसार, 14 अप्रैल को लॉकडाउन समाप्त होने की संभावना बहुत कम है। हालांकि, सब कुछ आने वाले दिनों में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या पर निर्भर करेगा।

अगर देखा जाये तोह ऊपर दिए गए सभी संकेत, चाहे वो डॉक्टरों द्वारा दिए गए हो या फिर खुद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा, सभी में एक बात सामान्य है जो इस बात की तरफ इशारा करती है की लॉकडाउन की तिथि को आगे बढ़ाया जा सकता है। अगर लॉकडाउन आगे बढ़ता है तो बहुत हद तक सम्भावना है की सभी लोगो को एक या दो दिन की छूट दी जाये और फिर पूरे देश में लॉकडाउन दुबारा किया जाये। या फिर इसकी भी बोहोत संभावना है की जिन सेहरों में कोरोना वायरस के मामले ज्यादा हैं उन्ही सेहरों में लॉकडाउन आगे बढ़ाया जाये और बांकी सेहरों में सब कुछ सामान्य रूप से चालू कर दिया जाये।

आने वाले दिनों में ये साफ़ हो जायेगा की लॉकडाउन १४ अप्रैल को समाप्त होगा या फिर अभी और लम्बा चलेगा। इस बीच आप अपने स्वस्थ का पूरा ध्यान रखे और साथ ही अपने परिवार को कोरोना वायरस से बचाव के तरीके बताये जो आप नीचे दिए गए लिंक को क्लिक करके जान सकते हैं।

ज़रूर पढ़े: कोरोना वायरस पर पूरी जानकारी – लक्षण, बचाव के तरीके और आपके राज्य/जिले में सक्रिय मामलों की सूचि

नीचे दिए गए किसी भी बटन को दबाकर इसे अपने प्रियजनों के साथ साझा करें!

मैं पेशे से एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हूं, हालांकि मशीनें मुझे उतनी उत्साहित नहीं करती, जितना कि शब्द करते हैं। मुझे लिखना बहुत पसंद है और विभिन्न स्रोतों से मैं लिखने का अभ्यास करता रहता हूं। कुछ समय से मैने इंटरनेट पर अपना योगदान देना शुरू किया है। मैं अंग्रेजी में कुछ अन्य ब्लॉग भी चला रहा हूं। मुझे इस बात की आवश्यकता महसूस हुई कि हिंदी में एक अच्छी वेबसाइट होनी चाहिए जो हिंदी पढ़ने वाले समुदाय को उपयोगी सामग्री प्रदान कर सके। इसलिए, यह ब्लॉग मुख्य रूप से केवल हिंदी पाठकों के लिए केंद्रित है और हर शब्द विशुद्ध रूप से देवनागरी लिपि में लिखा गया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *