जनरल,  टिप्स और ट्रिक्स,  फिटनेस,  स्वास्थ्य

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय जो आसान और प्रभावी हैं

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

इस लेख में, हम इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय के बारे में चर्चा करेंगे जो जानलेवा वायरस, बैक्टीरिया एवं अन्य बिमारियों से आपके शरीर को लड़ने में मदद करेगा और साथ ही आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर और मजबूत बनाएग।

आपके शरीर को बीमारी से बचाने के लिए एक अच्छी इम्यूनिटी या प्रतिरक्षा प्रणाली बहुत महत्वपूर्ण है जिससे आपका शरीर सामान्य रूप से कार्य करता रहे, और आपको एक अच्छे स्वास्थ्य में बनाए रखता है। अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को हमेशा बीमारी से लड़ने के लिए तैयार रखना बहुत जरूरी है, ताकि आप विभिन्न जानलेवा वायरस, जीवाणु, रोगजनकों और अन्य प्रकार की बीमारियों से सुरक्षित रह सकें। यदि आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली ठीक से काम करेगी तो सीधे तौर पर इससे आपकी इम्यूनिटी भी बढ़ेगी और आप स्वस्थ रहेंग।


इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय

इन 6 उपायों का पालन करना और अपनी जीवनशैली में इन्हें लागू करना आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करेगा और आपको विभिन्न तरह की जानलेवा बिमारियों से दूर रखेगा। यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आपको अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को सुधार कर अपने शरीर को सभी घातक वायरस, बैक्टीरिया और रोगजनकों से लड़ने में मदद करने के लिए इन चरणों का ईमानदारी से पालन करना होगा।


पौष्टिक भोजन खाएं

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

हमारे जीवन में भोजन का बहुत अधिक महत्व है, उचित पोषण के बिना, हमारा शरीर ठीक से काम नहीं कर पाएगा। एक वाहन को सड़कों पर चलने के लिए ईंधन की आवश्यकता होती है, इसी तरह हमारे शरीर को ठीक से काम करने के लिए ऊर्जा की आवश्यकता होती है जो हमें खाद्य पदार्थों से प्राप्त होती हैं। यह न केवल आपके शरीर को काम करने के लिए आवश्यक ऊर्जा प्रदान करते हैं, बल्कि आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने में एक अहम रोल निभाते हैं। कई अलग-अलग प्रकार के खाद्य पदार्थ हैं जो इम्यूनिटी को बढ़ावा देने के लिए शोधकर्ताओं एवं डॉक्टरों द्वारा प्रमाणित है। मुख्य रूप से प्लांट आधारित भोजन, प्रोटीन, फाइबर, आदि इम्यूनिटी को बढ़ावा देने में मदद करते हैं और आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। नीचे उन खाद्य पदार्थों की सूचि है जो आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करेंगे और आप अपने दैनिक आहार में इन्हें अवश्य शामिल करें।

  • हल्दी
  • शकरकंद
  • पालक
  • अदरक
  • लहसुन
  • ग्रीन टी
  • बादाम
  • संतरे, नींबू
  • दही
  • पपीता
  • कीवी

अच्छी नींद लें

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

नींद आपके शरीर को स्वस्थ रखने और आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। जब हम सो रहे होते हैं, हमारा शरीर किसी भी बीमारी या क्षति से खुद को ठीक करता है। एक व्यक्ति जिसे नींद की पर्याप्त मात्रा नहीं मिल रही है, उसे गंभीर बिमारियों को विकसित करने की अधिक संभावना होती है। ये केवल कोई बेतरतीब दावा नहीं हैं, बल्कि सिद्ध चिकित्सा संस्थानों और विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए विभिन्न शोधों के बाद साबित हुआ हैं। इसलिए, प्रयाप्त मात्रा में नींद लेना बहुत महत्वपूर्ण है। रिसर्च के अनुसार, स्वस्थ रहने के लिए वयस्कों को न्यूनतम 7 घंटे सोना चाहिए, किशोरों (13-18 वर्ष) को कम से कम 8 से 10 घंटे सोना चाहिए और शिशुओं को कम से कम 14 घंटे सोना चाहिए


व्यायाम करें

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

लंबे समय से, स्वस्थ और फिट रहने के लिए दुनिया भर के लोगों द्वारा व्यायाम किया जाता रहा है। अगर सही तरीके से किया जाए तो नियमित रूप से व्यायाम करने के अनगिनत फायदे हैं। व्यायाम करने से क्रोनिक रोग जैसे मोटापा, कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज आदि का खतरा कम हो जाता है और आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली ठीक से काम करती है। हालांकि, विभिन्न शोधों के अनुसार, बहुत अधिक व्यायाम करने से बचना चाहिए क्योंकि यह आपके स्वास्थ को लाभ से अधिक, हानि पहुँचा सकता है। जो कोई भी इम्यूनिटी को बढ़ाना चाहता है उसे हर दिन नियमित रूप से व्यायाम, योग या ध्यान करना चाहिए।


ज्यादा पानी पियें

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

पानी एक सबसे आवश्यक पदार्थ है जिसके बिना हम जीवित नहीं रह सकते। और, खुद को हाइड्रेटेड रखना, खुद को स्वस्थ रखने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जब भी आपको समय मिले, आप एक गिलास पानी पियें और हर दिन लगभग 8 से 10 गिलास पानी पीना सुनिश्चित करें। यह आपके शरीर की कार्यक्षमता को ठीक रखता है और आपके चयापचय को बेहतर बनाने में मदद करता है। इसके अलावा पानी पीने से आप किडनी से संबंधित बीमारियों से बचे रहते है और आपका इम्यून सिस्टम भी सही ढंग से काम करता है।


सप्लीमेंट और विटामिन लें

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

हम अक्सर भोजन के माध्यम से शरीर द्वारा आवश्यक विटामिन और खनिज प्राप्त नहीं कर पाते हैं। इस प्रकार, उन खाद्य पदार्थों को खाना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है जो विटामिन और खनिजों से भरपूर होते हैं। और, यदि आप अपने दैनिक आहार के माध्यम से आवश्यक विटामिन और खनिज प्राप्त करने में सक्षम नहीं हैं, तो हम आपको किसी भी दवा की दुकान से इन सप्लीमेंट्स को खरीदने और रोज़ लेने की सलाह देंगे। पूरक और विटामिन इम्यूनिटी बढ़ाने और आपके शरीर को बीमारी से लड़ने में मदद करने के लिए एक अहम भूमिका निभाते हैं। नीचे कुछ विटामिन और खनिज हैं जिनका आपको सेवन करना चाहिए।

  • विटामिन सी
  • विटामिन डी
  • जस्ता (जिंक)
  • एचिनासा
  • एल्डरबेर्री
  • लहसुन

ज्यादा शराब न पिएं

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

बहुत अधिक शराब के सेवन के नकारात्मक प्रभावों के बारे में हम सभी जानते हैं। जो लोग कभी-कभार शराब पीते हैं उन्हें चिंतित नहीं होना चाहिए क्योंकि सीमित रूप से शराब पीने के अनेक फायदे हैं। लेकिन, जो लोग बहुत अधिक शराब का सेवन करते हैं, उन्हें निमोनिया, अल्कोहलिक यकृत रोग, तीव्र श्वसन संकट सिंड्रोम और कैंसर होने का खतरा होता है। इसके अलावा, बहुत अधिक शराब पीने से संक्रमण से लड़ने की शरीर की क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इस प्रकार, यदि आप शराब पीते हैं तो आपको इसे नियंत्रित तरीके से पीना चाहिए। सुरक्षित रूप से एक आदमी प्रति दिन 2 गिलास शराब ले सकता है और एक महिला प्रति दिन 1 गिलास शराब का सेवन कर सकती है।


धूम्रपान न करें

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय, इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें, रोग प्रतिरोधक शक्ति

धूम्रपान ने कभी किसी का भला नहीं किया। धूम्रपान करने वाला व्यक्ति न केवल अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को नष्ट कर रहा है, बल्कि विभिन्न घातक बीमारियों को आमंत्रित करके अपने जीवन को खतरे में डाल रहा है। जब कोई व्यक्ति धूम्रपान करता है, तो वह हानिकारक रसायनों और गैसों जैसे कि कार्बन मोनोऑक्साइड, निकोटीन, नाइट्रोजन ऑक्साइड और कैडमियम का सेवन करता है। ये नकारात्मक तरीके से प्रतिरक्षा प्रणाली को प्रतिकूल रूप से प्रभावित करता है।

शराब पीने के विपरीत, जिसका नियंत्रित रूप से सेवन करने पर उसके खतरों को लाभ में बदला जा सकता है, वहीं एक भी सिगरेट पीने से आप विभिन्न बीमारियों के जोखिम से घिर जाते हैं और साथ ही आपका जीवनकाल भी कम हो जाता है। इसलिए किसी भी व्यक्ति को धूम्रपान नहीं करना चाहिए, और यदि उन्हें धूम्रपान करने की आदत है, तो उन्हें डॉक्टर की मदद से इस आदत को नियंत्रित करने का प्रयास करना चाहिए। सिगरेट, हुक्का, ई-सिगरेट, सिगार जैसी चीज़ों का सेवन आपके शरीर और प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए समान रूप से हानिकारक हैं और इससे बचा जाना चाहिए।


अपने हाथ ठीक से धोएं

हाथ कैसे धोये, कोरोना वायरस, हाथ धोने का सही तरीका, हैंड सैनिटाइजर, हैंड वॉश, हाथ कैसे धोएं

सुनने में ये आसान लग सकता है, लेकिन अच्छे से हाथ धोने से आप कई बीमारियों, संक्रमण, बैक्टीरिया और वायरस से बच सकते हैं। सबसे अच्छा उदाहरण कोरोना वायरस है, जिससे बचा जा सकता है यदि आप अपने हाथों को अच्छे से धोते हैं। न केवल अपने हाथ धोने से इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद मिलती है, बल्कि इसके अनगिनत फायदे हैं। यदि आप हाथ धोने के सभी लाभों के साथ हाथ ठीक से कैसे धोएं जानना चाहते हैं तो इसे पढ़े हाथ धोने का सही तरीका और फायदे


इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय – निष्कर्ष

हमने उन सभी महत्वपूर्ण इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय के बारे में जाना जिनका पालन करके आप अपनी इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं और बीमारियों से बचे रह सकते हैं। यहां किए गए सभी दावे विभिन्न शोधों पर आधारित हैं जो दुनिया भर के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए हैं। इस प्रकार, किसी को स्वस्थ रहने के लिए इन सभी उपायों को अपनी जीवन शैली में लागू करना चाहिए।

नीचे दिए गए किसी भी बटन को दबाकर इसे अपने प्रियजनों के साथ साझा करें!

मैं पेशे से एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हूं, हालांकि मशीनें मुझे उतनी उत्साहित नहीं करती, जितना कि शब्द करते हैं। मुझे लिखना बहुत पसंद है और विभिन्न स्रोतों से मैं लिखने का अभ्यास करता रहता हूं। कुछ समय से मैने इंटरनेट पर अपना योगदान देना शुरू किया है। मैं अंग्रेजी में कुछ अन्य ब्लॉग भी चला रहा हूं। मुझे इस बात की आवश्यकता महसूस हुई कि हिंदी में एक अच्छी वेबसाइट होनी चाहिए जो हिंदी पढ़ने वाले समुदाय को उपयोगी सामग्री प्रदान कर सके। इसलिए, यह ब्लॉग मुख्य रूप से केवल हिंदी पाठकों के लिए केंद्रित है और हर शब्द विशुद्ध रूप से देवनागरी लिपि में लिखा गया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *